April 20, 2024
bharat ka sabse gareeb rajya kaun sa hai

भारत का सबसे ग़रीब राज्य कौन सा हैं? – (7+ राज्य लिस्ट हिंदी में)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भारत का सबसे ग़रीब राज्य कौन सा हैं? – किसी भी देश की सबसे बड़ी समस्या उस देश की गरीबी होती हैं, अगर किसी भी देश में बहुत ही ज्यादा गरीबी है तो वह देश एक विकसित देश नहीं बन सकता है. कोई भी देश को एक विकसित देश बनने के लिए गरीबी को कम करना बहुत ही ज़रुरी हैं.

bharat ka sabse gareeb rajya kaun sa hai

भारत में भी ऐसी कई सारे राज्य हैं, जहां पर बहुत ज्यादा गरीबी है. आज हम भारत के सबसे गरीब राज्य के बारे में जानेंगे जहां पर हमे सबसे ज्यादा गरीबी देखने को मिलती हें. नीचे हमने भारत के दस सबसे गरीब राज्य के बारे में बताया हुआ हैं.

नीचे बताए हुए गरीब राज्यों के लिस्ट हमने राज्य के जनसंख्या प्रतिशत के आधार पर बताया हुआ हैं, चलिए अब एक एक करके सभी गरीब राज्यों के लिस्ट के बारे में जानते हैं.

भारत के सबसे गरीब राज्यों कौन सा हैं?

छत्तीसगढ़ भारत का सबसे ग़रीब राज्य हैं, जहां की लगभग 39.93 प्रतिशत लोग ग़रीब हैं, यहाँ के इतने लोग निर्धारित गरीबी सीमा से नीचे हैं.

चलिए अब भारत के सात सबसे गरीब राज्य के बारे में जानते हैं.

भारत का सात सबसे गरीब राज्य कौन सा हैं?

1. छत्तीसगढ़ भारत का सबसे गरीब राज्य

भारत का सबसे गरीब राज्य छत्तीसगढ़ हैं, जहां की लगभग 39.93 प्रतिशत लोग निर्धारित गरीबी समय सीमा से नीचे हैं, छत्तीसगढ़ क्षेत्रफल के हिसाब भारत का नौवा सबसे बड़ा राज्य हैं, जहां की पूरी क्षेत्रफल 135192 किमी2 हैं. इसके साथ ही करीबन भारत की 2.94 करोड़ लोग रहते हैं.

छत्तीसगढ़ में गरीबी के प्रमुख कारणों में विकास में कमी, अशिक्षा, बेरोजगारी सामाजिक असामाजिकता के कारण ही अभी के समय में छत्तीसगढ़ में काफी गरीबी देखने को मिलती हैं, भले ही पिछले कुछ वर्षो में बहुत बेरोजगारी कम करी गई हैं,

लेकिन अभी भी छत्तीसगढ़ सरकार को गरीबी मिटाने के लिए काफी मेहनत करने की जरुरत हैं. अगर आप छत्तीसगढ़ राज्य के बारे में और अच्छे से जानना चाहते है तो नीचे विडियो दिया हुआ हैं.



२. झारखंड

झारखंड भारत का एक राज्य हैं, जो की बिहार से वर्ष 2000 में हुए विभाजन के बाद बना था. झारखंड राज्य की राजधानी रांची है. झारखण्ड की प्रति व्यक्ति आय  57,863 रुपए हैं, जिसका मतलब यहाँ के रहने वाले औसतन लोग साल भर में  57,863 रुपए की कमाई करते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार झारखंड की तकरीबन 36.96 प्रतिशत आबादी निर्धारित गरीबी सीमा से नीचे अपनी जिंदगी व्यतीत कर रहे हैं. क्षेत्रफल के हिसाब से झारखण्ड भारत का 15वाँ सबसे बड़ा राज्य हैं, जहां का क्षेत्रफल 79,716 वर्ग किमी हैं. आबादी के हिसाब से झारखंड भारत का 14वा सबसे बड़ा राज्य हैं.

झारखण्ड की पूरी आबादी वर्तमान समय में ३.29 करोड़ की हैं, झारखंड में भरपूर खनिज संपदा है, जिसके पास सबसे ज्यादा खनिज संपदा हैं. झारखंड में गरीबी के मुख्या कारणों में शिक्षा की कमी, बेरोजगारी, विकास में कमी जैसे कई कारण हैं.

अगर आप झारखंड राज्य के बारे में अच्छे से जानना चाहते है तो नीचे दिए हुए विडियो को देख सकते हैं.



3. मणिपुर

मणिपुर की राजधानी इम्फाल है और यह राज्य भी भारत का एक गरीब राज्य में से एक हैं, मणिपुर में रहने वाले तक़रीबन 36.89 प्रतिशत लोग गरीबी सीमा से नीचे हैं, यह आंकड़ा झारखंड राज्य से थोडा सा ही नीचे हैं. इस हिसाब से झारखण्ड और मणिपुर के गरीबी के आबादी प्रतिशत में ज्यादा फर्क नहीं हैं.

मणिपुर भारत का एक पूर्वोत्तर राज्य हैं, जिसकी पूरी क्षेत्रफल लगभग 22,347 वर्ग कि.मी जो की इसे भारत का 23वाँ सबसे बड़ा राज्य क्षेत्रफल के हिसाब से बनाती हैं, वही पर इसके आबादी की बात करे तो मणिपुर की आबादी 28 लाख हैं.

जिसके कारण यह भारत का 23वाँ सबसे बड़ा राज्य जनसँख्या के हिसाब से हैं, वैसे कभी ऐसे सुनने में नहीं आता है की मणिपुर एक गरीब राज्य है लेकिन सच्चाई यही है की यह भी भारत के सबसे गरीब राज्यों के लिस्ट में तीसरे नंबर पर आता हैं.

अगर आप मणिपुर राज्य के बारे में और जानना चाहते है तो आप नीचे दिए हुए विडियो को देखकर मणिपुर राज्य से जुड़े हुए बहुत सारे जानकारी को जान सकते हैं.



4. अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश भारत का चौथा सबसे गरीब राज्य हैं, यहाँ के तकरीबन 34.67 प्रतिशत लोग गरीबी सीमा से नीचे रहते हैं, अरुणाचल प्रदेश का अर्थ “उगते सूर्य का पर्वत” है क्योंकी भारत में सबसे पहली सूरज की किरण अरुणाचल प्रदेश में ही पड़ती हैं.

अरुणाचल प्रदेश की आबादी 13 लाख है और इस राज्य की पूरी क्षेत्रफल 83,743 वर्ग किमी हैं, क्षेत्रफल के हिसाब से यह भारत का 14वाँ सबसे बड़ा राज्य है और वही पर आबादी के हिसाब से यह भारत का 27वाँ सबसे बड़ा राज्य हैं, वैसे तो अरुणाचल प्रदेश में गरीबी के कई सारे कारण हैं.

अरुणाचल प्रदेश में गरीबी का कारण बेरोजगारी, विकास और Infastructure में कमी और इसी के साथ ही राज्य में हर साल बाढ आते रहते हैं, जो की राज्य के गरीबी को बढाते है. अगर आपको अरुणाचल प्रदेश राज्य के बारे में और जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए हुए विडियो को देख सकते हैं.



5. बिहार

बिहार भारत का पांचवा सबसे गरीब राज्य हैं, वैसे अधिकतर लोगो को लगता है की बिहार भारत का सबसे गरीब राज्य हैं परन्तु ऐसा बिलकुल सच नहीं हैं. बिहार की तकरीबन 33.74 प्रतिशत के आसपास की आबादी गरीबी सीमा से नीचे हैं.

बिहार की राजधानी पटना है और यह पूरा समय में मगध नाम से जाना जाता था, बिहार का क्षेत्रफल 94,163 km2 है और आबादी 10 करोड़ हैं, क्षेत्रफल के हिसाब से भले ही बिहार भारत का 12वाँ सबसे बड़ा राज्य हो लेकिन जनसँख्या के हिसाब से यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा राज्य हैं.

बिहार में गरीबी के कई सारे कारण हैं, एक तो बिहार राज्य में साक्षरता दर कम हैं, इसके साथ में ही बिहार में कारखानों की कमी हैं, जिसके कारण ही लोगो को नौकरी नहीं मिल पाती है और नौकरी पाने के लिए उन्हें दुसरे राज्य में जाना पड़ता हैं.

बिहार की 50% से भी अधिक आबादी खेती से जुड़े हुए काम करती हैं, इन्ही सभी कारणों के वजह से बिहार एक गरीब राज्य बना हुआ हैं. अगर आप बिहार राज्य के बारे में थोडा और जानकारी चाहते है तो नीचे दिए हुए विडियो को देख सकते हैं.



6. ओडिशा

ओडिशा भारत का एक राज्य है, जिसकी राजधानी भुन्वेश्वर थी. ओडिशा भारत का छठा सबसे गरीब राज्य हैं, जहां के लोग निर्धारित गरीबी सीमा से नीचे हैं. यहाँ के तकरीबन 32.59 प्रतिशत की आबादी निर्धारित गरीबी सीमा से नीचे अपनी जिंदगी व्यतीत कर रहे हैं.

ओडिशा का क्षेत्रफल 155,707 किमी2 है और आबादी लगभग 4.19 करोड़ के आस पास हैं. क्षेत्रफल के हिसाब से ओडिशा भारत का 8वाँ सबसे बड़ा राज्य है और वही पर आबादी के हिसाब से यह भारत का 11वाँ सबसे बड़ा राज्य हैं, अगर आप ओडिशा के बारे में और अच्छे से समझना चाहते है तो नीचे दिए हुए विडियो को देख सकते हैं.



7. असम

असम भारत का सातवाँ सबसे गरीब राज्य में से एक हैं, असम में गरीबी का प्रमुख कारण कम Infastructure हैं, इसके साथ ही हर साल असम में हमे भयंकर बढ़ देखने को मिलती हैं, और इसके साथ में ही यहाँ पर कमाई करने का कोई अच्छा संसाधन नहीं हैं.

जिसके कारण ही असम भारत के सबसे गरीब राज्य के लिस्ट में सातवे नंबर पर आता हैं, असम के तकरीबन 31.98% आबादी निर्धारित गरीबी सीमा से नीचे हैं. असम का क्षेत्रफल 78,438 किमी2 और यहाँ की आबादी लगभग 3.11 करोड़ के आस पास हैं.

क्षेत्रफल के हिसाब से असम भारत का 16वाँ और जनसँख्या के हिसाब से असम भारत का 15वाँ सबसे बड़ा राज्य हैं, अगर आप असम राज्य के बारे में और अच्छे से जानना चाहते है तो नीचे दिए हुए विडियो को जरुर देखे.



भारत में गरीबी के कारण क्या हैं?

भारत में गरीबी के कई सारे कारण हैं, जिसमे से हमने 2 प्रमुख गरीबी के कारण के बारे में बताया हुआ हैं.

बढती जनसंख्या – भारत में अभी के समय में 140+ करोड़ से भी अधिक जनसंख्या है, जिससे भारत दुनिया का सबसे जनसंख्या वाला देश बन गया है और इतनी बड़ी जनसंख्या को भोजन, नौकरी, और भी कई जरुरी चीजे की जरुरत हमेसा बनी रहती हैं।

इतने अधिक लोगो के साथ विकास करना खुद में ही एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी हैं, और देश इतने लोगो को संभालने में काफी परेशानी का सामना कर रहा है। इसी वजह से भी भारत एक गरीब देश में से एक हैं।

बेरोजगारी की समस्या – भारत देश एक विकाशील देश हैं यानी अभी देश को विकास करने में अभी काफी समय लगेगा। भारत में इतनी बड़ी जनसंख्या होने के कारण सभी लोगो को रोजगार का अवसर देना बहुत मुस्किल काम हो जाता है क्योंकी भारत अभी इतना विकशित भी नहीं हो पाया हैं।

इन्हें भी पढ़े

Conclusion : Bharat Ka Sabse Garib Rajya Kaun Sa Hai

आशा करता है की हमारे द्वारा बताए हुए “भारत के सबसे गरीब राज्य के लिस्ट” काफी पसंद आया होगा और आपको काफी कुछ जानने को भी मिला होगा. हमने भारत के सबसे गरीब राज्य के नाम निर्धारित गरीबी सीमा के आधार पर बताया हुआ हैं.

अगर आपके मन में भारत के सबसे गरीब राज्य या कोई और सवाल हो तो आप सीधे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं, इसके अलावा अगर आपको किसी विषय पर जानकारी चाहिए तो उसे भी आप कमेंट के माध्यम से जरुर पूछे.

WebYukti

WebYukti Is A Job WebSite

View all posts by WebYukti →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *